जल संरक्षण और बृक्षारोपण को बनाना होगा जन अभियान - अतीश चन्द्रा
August 25, 2019 • Bishan Gupta

रिपोर्ट -इंदल कुमार 

 

जल और बृक्ष ही जीवन हैं और हर व्यक्ति को पानी और पेड़-पौधों की महत्ता समझनी होगी। पानी को खर्च करने में सावधानी बरतनी होगी, वर्षा के पानी का संरक्षण करना होगा, पेड़ लगाने होंगे। तभी जीवन बचेगा। ये कहना है, भारत सरकार के संयुक्त सचिव अतीश चन्द्रा का। दरअसल नवादा के मेसकौर प्रखंड में केन्द्र और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयास से जल शक्ति अभियान चलाया जा रहा है, जिसकी कार्य प्रगति का निरीक्षण करने के लिए केन्द्र सरकार के संयुक्त सचिव अतीश चन्द्रा, जिला अधिकारी कौशल कुमार एवं दूसरे पदाधिकारियों के साथ मेसकौर पहुंचे थे। मेसकौर प्रखंड में पानी की कमी को देखते हुए वॉटर हारवेस्टिंग योजनाओं को सही रूप में धरातल पर उतारने के लिए रिसर्च के तौर पर मेसकौर को चुना गया है।

इस बीच अरण्डी पहाड़ी पर संयुक्त सचिव अतीश चंद्रा, नवादा जिलाधिकरी कौशल कुमार के साथ ही दूसरे पदाधिकारियों , जीविका समूह के ग्राम संगठन की महिला सदस्यों और सैकड़ों स्कूली बच्चों ने बृक्षारोपण किया। साथ ही आम लोगों में जागरूकता के लिए सूचना एवं जनसंपर्क के कलाकारों द्वारा गीत संगीत एवं नुक्कड़ नाटक पेश किये गये । इस दौरान अतीश चन्द्रा ने कहा कि जल संचयन के लिए सरकारी प्रयासों के साथ ही जन भगीदारी भी जरूरी है, तभी यह प्रयास सफ़ल होगा। इस बीच जिले के अधिकारियों द्वारा केन्द्र सरकार के संयुक्त सचिव और उनकी टीम को जानकारी दी गयी कि मेसकौर प्रखंड में जल शक्ति अभियान के तहत सभी योजनाओं के लिए डीपीआर बनाये गये हैं। योजना पर कितना काम हुआ है और कितना बाकी है, इसकी रिपोर्ट बनाकर जल्द संबंधित विभागों को दी जाएगी। इस दौरान जिलाधिकारी कौशल कुमार ने कहा कि जिले में जल शक्ति अभियान को सफल बनाने के लिए लोगों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत लोगों को जल बचाने , उसे संरक्षित करने के लिए न केवल प्रेरित किया जा रहा है, बल्कि उन्हें इसके उपाय भी सुझाये जा रहे हैं, कि किस तरह वो पानी को बचा सकते हैं उसका संचयन और संरक्षण कर सकते हैं।