मानवता की मिसाल
September 19, 2018 • Bishan Gupta

नर सेवा, नारायण सेवा। इसी भावना को उद्देश्य मानकर पश्चिम बंगाल का शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट काम कर रहा है। ट्रस्ट के द्वारा जहां समय-समय पर कैम्प लगाकर गरीब व असहाय लोगों को तरह-तरह से मदद की जाती है, वहीं इस बात का भी ध्यान रखा जाता है कि इससे किसी के सम्मान को ठेस न पहुंचे। ट्रस्ट के प्रयास किसी प्रेरणा से कम नहीं है। हालांकि शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट के सदस्य न्यूज समाज सेवा के अपने कामों को लेकर हमेशा पब्लिसिटी से दूर रहते हैं। उनका मानना है कि पब्लिसिटी से दूर रहते हैं। उनका मानना है कि जो लोग समर्थवान हैं, उनका दायित्व है कि वो बेसहारा लोगों को सहारा दें। इसमें पब्लिसिटी की बात कहां से आती है। लेकिन जब अराइज न्यूज की टीम ने बेसहारा लोगों के बीच शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट के कामों को देखा, तो ट्रस्ट के ट्रस्टी से उनके कामों के बारे में लिखने की इजाजत मांगी। हालांकि वो इसके लिए बार-बार मना करते रहे, लेकिन अपना नाम ना छापने की शर्त पर अन्ततः उन्होंने इसके लिए हामी भर दी। शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट के सदस्यों का मानना है, कि देश में गरीबी का मूल कारण अशिक्षा है। लोगों की जिंदगी में ज्ञान का दीपक जलाकर ही इस समस्या से निजात पायी जा सकती है और समाज के अन्तिम छोर पर खड़े व्यक्ति की जिंदगी भी रौशन की जा सकती है। हालांकि इसके लिए केन्द्र और राज्य सरकारें अपनी ओर से भरपूर प्रयास कर रही हैं, लेकिन लोगों में शिक्षा के प्रति चेतना के अभाव के कारण उनके प्रयास नाकाफ़ी साबित हो रहे हैं। शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट गरीब लोगों के बीच शिक्षा की महत्ता को लेकर जहां जागरूकता अभियान चलाता है, वहीं गरीब परिवारों के बच्चों को हर संभव मदद करता है। इसके साथ ही शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट की ओर से गरीब परिवारों को हर साल मुफ़्त आवास मुहैया करवाये जाते हैं, ताकि वो एक बेहतर जिंदगी बसर कर सके। शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट के चेयरमैन की दूरगामी सोच का ही परिणाम है कि आज ट्रस्ट की ओर से गरीबों की मदद के लिए पूरे साल कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। कभी बेरोजगार महिलाओं के लिए सिलाई मशीन वितरण, कभी निशक्त लोगों के लिए व्हील चेयर वितरण, गरीबों के लिए सामूहिक भोज, फ्री मेडिकल हेल्थ चेकअप, सर्दियों में कम्बाल एवं वस्त्र वितरण के साथ ही वृक्षारोपण कार्यक्रम । इसके साथ ही ट्रस्ट की ओर से हर साल कांवड़ियों के लिए भोजन और दवा का प्रबंध भी किया जाता है। इन सबके बीच हर साल 31 इसके साथ ही ट्रस्ट की ओर से हर साल कांवड़ियों के लिए भोजन और दवा का प्रबंध भी किया जाता है। इन सबके बीच हर साल 31 जुलाई को ट्रस्ट के द्वारा प्रतिभा पुरस्कार का कार्यक्रम किया जाता है, जिसमें समाज में छिपी प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कार राशि के साथ ही उनका सम्मान भी किया जाता है। इस  साल भी यह प्रोग्राम शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट और बांगुड़ी बेलफेयर सोसायटी के संयुक्त तत्वावधान में बड़े ही धूमधाम से आयोजित किया गया, जिसकी व्यवस्था का जिम्मा संदीप मंडल को सौंपा गया, जिसे उन्होंने बखूबी निभाया। शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट की कोशिश है कि समाज के हर तबके को रोटी, कपड़ा और मकान मुहैया हो, ताकि समाज से भेदभाव मिट सके। शिव शक्ति चेरिटेबल ट्रस्ट की यह अनूठी कोशिश जहां समाज में पेश कर रही है समानता का भाव, वहीं इससे हमें मिल रही है एक छोटी सी आशा ।